Skip to main content

राज्य के प्राइवेट अस्पतालों में महंगे इलाज से जनता त्रस्त, राज्य सरकार बेपरवाह: अमित कुमार

कोरोना महामारी के इस भीषण आपदा में राज्य के प्राइवेट अस्पतालों द्वारा मरीजों से मनमाने पैसे वसूले जा रहे हैं जिससे झारखंड की जनता त्रस्त है।वहीं राज्य की वर्तमान सरकार इस पर न ही कोई अंकुश लगा पा रही है और ना ही राज्य के स्वास्थ्य मंत्री इस पर कुछ बोलने को तैयार हैं।यह आरोप भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता अमित कुमार ने राज्य की हेमंत सरकार पर लगाया है।उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि हेमंत सरकार में कोरोना काल में मरीजों का बेहतर इलाज नहीं हो पा रहा है और ना ही कोरोना संक्रमण से राज्य की जनता को बचाने का कोई ठोस कदम उठाया जा रहा है।जिससे राज्य में कोरोना संक्रमण का खोफ लोंगों में दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। राज्य के सरकारी अस्पतालों में सुविधाएं नगण्य हैं और जब राज्य की जनता अपने इलाज के लिए प्राइवेट अस्पतालों में जा रही है तो वहां उनसे प्राइवेट अस्पतालों द्वारा मनमानी पैसे वसूले जा रहे हैं,जिसे राज्य की जनता त्राहिमाम कर रही है। अमित कुमार ने राज्य के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से यह मांग की कि मुख्यमंत्री राज्य के सभी जिलों के उपायुक्तों को राज्य के प्राइवेट अस्पतालों द्वारा मरीजों से मनमानी पैसे की वसूली रोकने पर अंकुश लगाने के लिए आदेश जारी करें ताकि राज्य की गरीब जनता से इलाज के नाम पर मनमानी पैसों की वसूली पर अंकुश लग सके और राज्य की गरीब जनता भी राज्य के प्राइवेट अस्पतालों में भी अपना इलाज करा सके।उन्होंने वर्तमान राज्य सरकार से यह भी मांग किया कि सरकारी अस्पतालों में बेहतर चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध कराए ताकि राज्य की गरीब जनता का ससमय समुचित इलाज हो सके।उन्होंने राज्य सरकार से यह भी मांग किया कि राज्य में जिस प्रकार कोरोना का संक्रमण दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है उसे रोकने की दिशा में राज्य सरकार ठोस कदम उठाए।


SUBSCRIBE FOR UPDATES
© 2022 All Rights Reserved | Deloped By: palakSys
Find Us: